कोल्ड-ड्रिंक्स के नाम पर मचने वाली लूट

कल रात में मैं अमेरिकी फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन की साइट पर ये गैस वाली कोल्ड-ड्रिंक्स (carbonated cold drinks) के बारे में पढ़ रहा था… इस वेबपेज का लिंक मैं नीचे दे रहा हूं ..आप देख कर दंग रह जाएंगे कि किस तरह से अमेरिका में इन कोल्ड-ड्रिंक्स के एक एक इन्ग्रिडिऐंट्स को कैसे लैंस के नीचे से गुजरना पड़ता है। इतनी बारीकी से प्रिज़रवेटिव्स एवं स्टेबीलाइज़र्स के बारे में लोगों को आगाह करवाया गया है।

लेकिन ऐसी कोई व्यवस्था भारत में मुझे तो कभी दिखी ही नहीं ….याद है कुछ वर्ष पहले जब सेंटर फॉर साईंस एंड एनवायरनमैंट (Centre for science and environment) ने कोल्ड-ड्रिक्स में इस्तेमाल किए जाने वाले पानी की क्वालिटी पर ही सवाल खड़े कर दिये थे तो कितना बवाल मचा था ….हां, हां, हुआ था कुछ तो अखबारों में, मीडिया में खबरें छपीं थीं….लेकिन क्या हुआ? — वही कोल्ड-ड्रिंक्स धड़ल्ले से बिक रही हैं –बिक रही हैं क्योंकि लोगों को इन की लत पड़ चुकी है।

इन कोल्ड-ड्रिंक्स के बारे में चिकित्सक बिल्कुल ठीक कहते हैं कि ये केवल मीठा पानी के सिवाए कुछ भी नहीं है…. तो क्या हम लोग उस गैस की कीमत चुका रहे होते हैं!

कोल्ड-ड्रिंक्स पीना बिल्कुल नाली में पैसे फैंकने के बराबर है —कोई भी तो फायदा नहीं है इसका — बस फायदा कंपनी का तो है ही, साथ ही साथ उन सुप्रसिद्ध शख्सियतों का जो इन को बेचने के लिए पब्लिक को  मूर्ख बनाने से भी नहीं चूकते — लेकिन आप ही कहेंगे – वे कोई जबरदस्ती तो नहीं ना कर रहे, जब पब्लिक खुशी खुशी  बन रही है तो वे भला यह नेक काम कर के क्यों न करोड़ों कमा लें!

जो लिंक मैं नीचे दे रहा हूं उस पर जाकर आप यह देखिए कि अमेरिकी लोग इन कोल्डड्रिंक्स के दीवाने हैं – कुछ लिखा था कि इतने गैलन कोल्ड ड्रिंक एक औसत अमेरिकी एक साल में गटक जाता है।

कोल्ड-ड्रिंक्स पीने को मैं कभी भी प्रोत्साहित नहीं करता — लेकिन कभी कभार जब थोड़ी बहुत बदहज़मी सी हो जाए तो थोड़ी बहुत पी ही लेता हूं …इस से ज़्यादा कुछ दिन —बस, महीने में एक दो बार –बिल्कुल थोड़ी बहुत किसी के बहुत आग्रह करने पर।

जो हमारे पुराने पारंपिक पेय रहे हैं –वे अभी भी भाते हैं —-गन्ने का रस, शिकंजी, आम का पन्ना, सत्तू, छाछ  …यह सब पीना अच्छा लगता है …. याद है बचपन में हम लोग उस बंटे वाली बोतल के कितने दीवाने हुआ करते थे — दूध में डाल कर पीना कितना अच्छा लगता था।

आप सब के लिेए एक होम-वर्क है –अगली बार जब कोल्ड-ड्रिंक्स, एनर्जी ड्रिंक्स अथवा किसी ऐसे पेय को खरीदें तो इस पर दी गई न्यूट्रिशन से संबंधित जानकारी ध्यान से देखियेगा।

मेरे कुछ लेख किसी ज़माने में लिखे हुए जिन्हें पढ कर आप को ज़रूर कुछ अच्छा लगेगा….
गन्ने के रस के बारे में मेरा एक लेख
एनर्जी ड्रिंक्स की इधर पोल खोली है
फलों का रस पीते समय थोड़ा ध्यान दें
और हां, अपने लिंक लगाने के चक्कर में अमेरिकी फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन का वह लिंक ही कहीं न भूल जाऊं ….
What you should know about Carbonated Soft drinks?

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s